Posts

36 गामा में बस्ता

बोल दे आखिरी दिन है

बदल जाते है

इतवार का क्रिकेट मैच

ना कोई क़यामत आईं है

भर्ती

जो दौर गवाँए बैठे है

सर्दी का पेपर

About Author