फैन होए हां

January 27, 2017

फैन होय हां (PDF)




अंखा ने कटार मुख चन्न वरगा
तेरी अध तकनी दे फैन होए हां

इक तेरी बलिये नि संग मार गई
कुज गल्ला दिया लाली दे नी मोहे होए हां

हुए ने मुरीद तेरे चिट्टे सूट दे
राता कालिया सी ज़ुल्फा च खोये होए हां

बज दे ने बोल तेरे कन्ना विच नि
लग दिए अंख जीवे सोये होए हां

तक ले नी मुड़ के तू जाण वालिये
इन लमिया राहा च दिल खोये होए हां

बण चली हुन नि तू गीत “दीप “ दा
रूप तेरा गीता च समोए होए हां 

     प्रदीप सोनी 

You Might Also Like

0 comments

Video

Google +