फोटोकॉपी


 पेपर शुरू होने में 5 मिनट थी.
और फोटोकॉपी की दुकान चार किलोमीटर दूर.

मैंने बबलू को कहा चल फटा फट सैंपल पेपर ले और बैठ पीछे.

10 मिनट बाद हम फोटो स्टेट की दुकान पे.

बबलू: ने कहा “ भाई 0 साइज़ की 2 कॉपी बना दे जल्दी ”
फोटो कॉपी भाई: कौन सा सब्जेक्ट है भाई.
बबलू: कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग.

फोटो कॉपी भाई: खोपचे में गया और वह से जीरो साइज़ की 2 कॉपी ले आया.
मैं: मन तो कर रहा था भाई तेरा माथा चूम लू तू तो भगवान है रे हमारी 10 मिनट बचा दी. पास हो गए तो पहली बियर तेरी दुकान पे आयगी.
फोटो कॉपी भाई: अरे कुछ नहीं भाई तुम जैसो की वजह से ही हमारा काम चल रहा है.

(साला समझ नहीं आया दुआ दे रहा है या बेईज्ज़ती कर रहा है)


हम फोटो कॉपी लेकर जाने लगे तभी पीछे से आवाज आई
“ भाई वैसे अगला कौन सा पेपर है तुम्हारा ??? ”

मैं: बस कर पगले अब रुलाएगा क्या.
बबलू: डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स.
 

पेपर शुरू होने के 10 मिनट बाद हम कॉलेज पहुंचे और दोनों ही पास भी हो गए.

भाई कॉलेज जिन्दगी के भी अपने अलग ही एडवेंचर है

हवा में प्रणाम 
  



Comments